क्या आपने भी हरभजन की तरह अवसर छुटने से पहले तैयारी कर ली है?

harbhajan-singh

नवजोत सिंह सिधु पाजी ने एक बात बताई जो में आपको जरुर बताना चाहुगा. यह बात भारत के स्टार क्रिकेटर हरभजन सिंह के बारे में है.

एक बार सिधु पाजी जलंदर में थे. तो वो जलंदर के क्रिकेट मैदान में गये प्रक्टिस करने के लिए. उन्होंने वहा के लोगो को कहा कि यार बढ़िया सा बॉलर लेकर और आज प्रक्टिस करनी है. हरभजन सिंह तब बहुत छोटे थे. और उनको बोला गया कि सिधु पाजी को बॉल करवाओ.

तो सिधु पाजी ने देखा की एक 16-17 साल का लड़का, उनको बॉल करवाने के लिए ले आये है. और सिधु पाजी तब खूब चोके-चक्के मरते थे तो सिधु पाजी ने कहा की यार कोई दमदार बॉलर लेकर आओ.

सबने उनको बोला कि आप एक बार खेलो तो सही.

हरभजन ने जब बॉल करवानी शुरू कि तो सिधु पाजी उनकी स्पीन खेल नहीं पाए. पहली बॉल चुकी और दूसरी बॉल चुकी सीने पर लगी.

सिधु पाजी ने पहचान लिया कि यह एक बड़ा टैलेंट है. और हरभजन सिंह को पंजाब की टीम में जगह मिल गई. और कुछ महीनो बाद वो भारत टीम का हिस्सा बन गये. और इसके आगे मुझे और कुछ बताने की जरुरत भी नहीं है.

ये हरभजन सिंह का उदाहरण हमें बहुत बड़ी शिक्षा देता है. इस उदहारण से हम यह सिख सकते है कि जिंदगी में कुछ करने के मौके कभी भी आ सकते है. लेकिन कितना जरुरी है उस मौके के लिए खुदको तैयार रखना.

हरभजन कई घंटे हर रोज मैदान में लगाते थे. बहुत कठिन महनत करते थे. उन्हों अपने आप को कमियाबी को पाने के लिए तैयार रखा था. और जैसे ही सिधु नाम अवसर उनके आस-पास आई अवसर और तैयारी की मुलाकात हो गई. तो लम्बी कमियाबी की जिंदगी बन गई .

ये बात हर फील्ड में लागू है. यहाँ पे उदहारण के लिए कोई विध्यार्थी या इंजिनियर को लेते है. अगर आप विध्यार्थी या इंजिनियर हो तो आपके पास भी जॉब या अवसर आ सकते है. पर क्या आपकी तैयारी उस अवसर के लिए तैयार है.

क्या आपने अपने स्किल्स और ज्ञान पर ऊपर इतनी महनत की है कि जब अवसर आये तो उसे हासिल करने के लिए तैयार हो.

आपका तैयार रहना जरुरी है ताकि अवसर के आते ही आप अपने तरक्की की शुरुआत कर पाओ.

ऐसे ही एक और उदहारण लेते है की आपके पास एक बिज़नस प्लान है. और आप उस बिज़नस प्लान के लिए कोई इन्वेस्टर ढूंड रहे हो. तो अपने उस बिज़नस प्लान की प्रेजेंटेशन और जानकारी हमेशा तैयार रखो आपको नहीं पता अवसर कब कैसे आ जाए.

हो सकता है ट्रेन में साथ वाली सिट में आ जाए, हो सकता है किसी फंक्शन में किसी बन्दे से मिलो और वो हो तैयार हो आपके बिज़नस पर इन्वेस्ट करने के लिए.

तो चाहे आप विध्यार्थी है, जॉब में है, बिज़नस में है किसी भी फील्ड में है हमेशा याद रखो कि जब तैयारी और अवसर मिल जाते है तो एक कामियाब जिंदगी बन जाती है.

तो हरभजन की तरह आप भी अपने लक्षय की तरफ बढ़ते रहिये, कमियाबी की तरफ चलते रहिये ताकि जब अवसर आपके पास आये तो आप भी फठेक से, चक्का लगा दो.

**शिक्षाप्रद कहानियों का विशाल संग्रह**

One Response

  1. yogesh kumar sarin December 20, 2016

Leave a Reply