Story From Sandeep Maheshawari Last Life Changing Seminar

sandeep-maheshwari-last-life-changing

This is a story about 2 farmers taken form last life changing seminar of Sandeep Maheshwari. The story in Hindi Text.

अगर आप इस इस पोस्ट को संदीप महेश्वरी की विडियो से तुलना करो तो कुछ बदलाव दिख सकते है.

Story From Last Life Changing Seminar by Sandeep Maheshwari

अब एक ऐसी कहानी है। जिसका मेरी (संदीप महेश्वरी) लाइफ में हेना बहुत बड़ा असर हुआ है।

2 किशान होते थे एक गाँव में, एक जैसा काम करते थे। दोनों मरे और भगवान के पास में गए। अब वह भगवान ने उन दोनों से पूछा की हा अब तुम्हे अब क्या चाहिए क्या बनाना है? बताओ..!!

तो एक किसान बहुत गुस्से में बोला, भगवान से बोला कि भगवान..!! क्या गटिया जिंदगी दी थी आपने मुझे। कुछ भी नहीं था मेरे पास में, कुछ भी। देखो मेरी आपने क्या हालत बना दी थी। पूरी जिन्दगी बस उस बेल की तरह काम करता रहा, करता रहा। जो भी पैसे कमाता था कोई आकर के मुझसे लेकर चला जाता था और मेरे हाथ में कुछ भी नहीं आया।
तो भगवान कुछ ऐसा कर दो की मुझे कुछ देना ना पड़े बस मुझे पैसा मिले, मिले, मिले, मिले, मिले.. हर तरफ से मिले।

भगवान ने कहा: तथासु, जा।

दूसरा भगवान से उससे पूछा कि तुझे क्या चाहिए।

दूसरा किसान बोला: भगवान्..!! आपने मुझे इतना कुछ दिया कि में आपसे क्या मांगू, मेरे को एक अच्छा परिवार दिया था, अच्छा सा मुझ को काम दिया था, अच्छा गाँव दिया था, खाने की कभी कोई कमी नहीं हुई, कभी में भूखा नहीं सोया बस एक ही कमी रह गई मेरी जिन्दगी में। मेरे दरवाजे पर कई बार कुछ भूखे लोग आते थे कुछ मांगने के लिए, बस कुछ ऐसा कर दो कि मेरे दरवाजे से कोई भूखा ना जाये।

भगवान ने कहा: तथासु जाओ।

अब दोनों का जन्म हुआ उसी गाँव में, दोनों बड़े हुए।

पहला आदमी जिसने कहा था की मुझे बस मिले, मिले, मिले, मिले और मुझे किसी को देना ना पड़े तो वो उस गाँव का सबसे बड़ा भिखारी बना। जिसमे अब उसे देना ना पड़े बस मिले ही मिले।

और दूसरा आदमी जिसने कहा था की मुझे कुछ नहीं चाहिए बस कोई भूखा न रहे। और वो बना उस गाँव का सबसे अमीर आदमी।

तो सीधा सा है की आर आप हस्ते रहना चाहते हो तो हसी दो।

पसदं आया तो यह Sandeep Maheshwari के last life changing seminar में से ली गई story को अपने दोस्तों के साथ share करे।

**शिक्षाप्रद कहानियों का विशाल संग्रह**

7 Comments

  1. SITA December 16, 2016
  2. Sneha Yadav October 25, 2016
  3. yogesh ravi September 11, 2016
  4. Nikhil soman sahoo November 10, 2015
  5. Navin Rewatkar September 26, 2015
  6. rajiv July 1, 2015
    • Admin July 1, 2015

Leave a Reply